सरकारी स्कूलों में पहली बार पढ़ाएंगे पीजीटी स्पेशल एजुकेशन शिक्षक

Education

टीजीटी स्पेशल एजुकेशन ही 12वीं तक के छात्रोें को पढ़ाने से और उनकी शैक्षणिक जरूरतों को पूरा करने से संबंधित कार्य करते थे। वहीं, समावेशी शिक्षा विभाग में भी स्पेशल एजुकेशन के छात्रों से जुड़े सभी कार्य टीजीटी स्पेशल एजुकेशन ही करते थे। लेकिन, 11वीं-12वीं में पढ़ने वाले छात्रों के लिए पीजीटी शिक्षक की जरूरत को समझते हुए फरवरी 2021 में पीजीटी स्पेशल एजुकेशन के पद निकाले गए और फिर भर्ती की गई।

New Delhi/TezzMedia.com

दिल्ली सरकार के स्कूलों में पहली बार पीजीटी स्पेशल एजुकेशन के शिक्षक छात्रों को पढ़ाएंगे। दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय ने इसके लिए 268 शिक्षकों की भर्ती की है। निदेशालय ने पीजीटी स्पेशल एजुकेशन के ये पद पदोन्नति कि माध्यम से भरे हैं। निदेशालय ने इस साल पहली बार पीजीटी स्पेशल एजुकेशन के 301 पद निकाले थे। इसमें 268 टीजीटी स्पेशल एजुकेशन की सीधे पदोन्नति कर पीजीटी स्पेशल एजुकेशन में भर्ती की गई है। वहीं, 33 पद अभी भी खाली हैं। निदेशालय के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक जिन पदों पर भर्ती नहीं हुई है वो एससी श्रेणी के कोटे के पद हैं इन पदों पर अभी एससी कोटे के शिक्षक नहीं थे इसलिए ये पद फिलहाल नहीं भरे गए हैं।

संयुक्त शिक्षा निदेशक रामचंद्र सिंघारे ने बताया कि दिल्ली के स्कूलों में कक्षा एक से 12 तक स्पेशल एजुकेशन वाले छात्रों के लिए अब तक केवल टीजीटी स्पेशल एजुकेशन का ही पद था। टीजीटी स्पेशल एजुकेशन ही 12वीं तक के छात्रोें को पढ़ाने से और उनकी शैक्षणिक जरूरतों को पूरा करने से संबंधित कार्य करते थे। वहीं, समावेशी शिक्षा विभाग में भी स्पेशल एजुकेशन के छात्रों से जुड़े सभी कार्य टीजीटी स्पेशल एजुकेशन ही करते थे। लेकिन, 11वीं-12वीं में पढ़ने वाले छात्रों के लिए पीजीटी शिक्षक की जरूरत को समझते हुए फरवरी 2021 में पीजीटी स्पेशल एजुकेशन के पद निकाले गए और फिर भर्ती की गई। सिंघारे के मुताबिक 11वीं-12वीं के छात्रों को लिए अब पीजीटी शिक्षक अलग से ध्यान दे पाएंगे।

निदेशालय के मुताबिक पदोन्नत किए गए शिक्षक अगर समावेशी शिक्षा शाखा में या मेंटर शिक्षक के तौर पर कार्य कर रहे हैं तो वो फिलहाल वहीं कार्य करेंगे।हालांकि, उनका वेतन और अन्य सुविधाएं उन्हें पीजीटी के तहत ही मिलेंगी। निदेशालय ने उप शिक्षा निदेशकों को निर्देश दिया है कि वो ये सुनिश्चित करे कि सभी टीजीटी शिक्षक जिनकी भी पदोन्नति हुए है वो जल्द से जल्द अपना पद संभालते हुए कार्य करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Education

ई. श्रीधरन ने दिल्ली-एनसीआर के लाखों लोगों को दी ‘लाइफलाइन’

मेट्रोमैन के नाम से मशहूर 89 वर्षीय ई. श्रीधरन को कोंकण रेल और दिल्ली मेट्रो समेत देश के कई बड़े मेट्रो प्रोजेक्ट में उनका अहम